Dil Bechara Review: अपनी आखिरी फिल्म में जिंदगी की बड़ी सीख दे गए सुशांत सिंह राजपूत

Entertainment

फिल्म: दिल बेचारा

स्टार कास्ट: सुशांत सिंह राजपूत, संजना सांघी,स्वास्तिका मुखर्जी, साश्वता चटर्जी

डायरेक्टर: मुकेश छाबड़ा

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा रिलीज हो गई है। इस फिल्म का फैन्स बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। फैन्स चाहते थे कि यह फिल्म थिएटर पर रिलीज हो, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से सभी थिएटर्स बंद हैं और इसी वजह से फिल्म को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया गया। खास बात यह है कि फिल्म को देखने के लिए किसी को भी हॉटस्टार का सब्सक्रिप्शन नहीं लेना। नॉन सब्सक्राइबर्स भी इस फिल्म को फ्री में देख सकेंगे।

कहानी

फिल्म की कहानी शुरू होती है कीजी बासु(संजना सांघी) से जो कैंसर से पीड़ित होती हैं। वह अपनी लाइफ दवाइयों और दुख के साथ जीती है, लेकिन तभी उसकी लाइफ में एंट्री होती है मैनी(सुशांत सिंह राजपूत) की। मैनी के आने के बाद कीजी की लाइफ बदल जाती है। मैनी, कीजी के हर सपने को पूरा करने की कोशिश करता है। दोनों के बीच सब अच्छा चल रहा होता है कि तभी कुछ ऐसा होता है जिसके बाद कहानी में एक टर्न आता है। अब वो टर्न क्या है इसके लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

रिव्यू

सुशांत के फैन्स जो उनके निधन से दुखी थे, वे सुशांत को स्क्रीन पर देखकर खुश होंगे क्योंकि अपनी आखिरी फिल्म में सुशांत ने जिंदगी से जुड़ी कई बड़ी सीख सिखाई। सुशांत ने मैनी का किरदार बहुत अच्छे से निभाया जैसे कि ये किरदार सिर्फ उनके लिए बना है। सुशांत के एक्सप्रेशन, डायलॉग डिलिवरी सब परफेक्ट हैं। 

वहीं कीजी का किरदार निभा रहीं संजना सांघी ने भी शानदार परफॉर्मेंस दी है। संजना ने हर सीन में अपना बेस्ट दिया है। वहीं कीजी की मां और पापा का किरदार निभा रहे स्वास्तिका मुखर्जी और साश्वता चटर्जी ने भी अपना पार्ट अच्छे से निभाया। सैफ अली खान ने फिल्म में कैमियो किया है। भले ही वह सिर्फ कुछ मिनट के लिए स्क्रीन पर आए, लेकिन उन्होंने उन कुछ मिनटों में ही अपनी छाप छोड़ दी।

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ हुई रिलीज, अंकिता लोखंडे ने कहा- एक आखिरी बार

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा रिलीज, फैन्स ने सोशल मीडिया पर दिए ये रिएक्शन्स

मुकेश छाबड़ा ने इस फिल्म के जरिए डायरेक्टर के तौर पर डेब्यू किया है और मानना पड़ेगा कि पहली फिल्म के हिसाब से मुकेश ने काफी अच्छा काम किया है। उन्होंने इस छोटी और प्यारी कहानी को परदे पर अच्छे से दिखाया है। फिल्म के कुछ डायलॉग्स बहुत अच्छे हैं।  

क्यों देखें

सुशांत और संजना की बेहतरीन एक्टिंग और साथ ही जिंदगी को लेकर जो सुशांत ने सीख दी है उसके लिए आपको यह फिल्म देखनी चाहिए।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *