संजना सांघी के MeToo मामले पर सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त कुशाल झवेरी ने बताई नई बात

Entertainment

टीवी सीरियल ‘पवित्र रिश्ता’ के डायरेक्टर और सुशांत सिंह राजपूत के करीबी मित्र कुशाल झवेरी ने बताया है कि ‘मीटू मूवमेंट’ के दौरान दिवंगत एक्टर काफी परेशान हो गए थे। कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर लिखी एक पोस्ट के जरिए कुशाल ने सुशांत के उस समय की मेंटल हेल्थ का जिक्र किया था, जब वह मीटू मूवमेंट के तहत आरोपों का सामना कर रहे थे। अब एक बार फिर उन्होंने इसी से जुड़ी एक पोस्ट शेयर की है। कुशाल ने लिखा है कि जब सुशांत पर मीटू का आरोप लगा तो उस समय संजना सांघी को उन्होंने कॉन्टैक्ट किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। साथ ही इसपर कोई कॉमेंट भी नहीं किया। 

कुशाल लिखते हैं कि संजना सांघी से एक रिप्लाई की उम्मीद कर रहा था, क्योंकि कंगना रनौत को उन्होंने बड़ी जल्दी रिप्लाई किया था इसलिए। मुझे लगता है संजना व्यस्त होंगी। चलो, मैं आज आपको फिल्म से जुड़ी एक बात बताता हूं। सुशांत ने फिल्म के कई सीन के डायलॉग्स को री-राइट किया था, बिलकुल डायरेक्टर की मर्जी के बाद ही उन्होंने ऐसा किया था। 

आपको बता दें कि कुशाल ने अपनी इससे पहली पोस्ट में लिखा था कि मैं उनके साथ जुलाई 2018 से लेकर फरवरी 2019 तक रहा। मीटू मूवमेंट के दौरान वह काफी ‘कमजोर’ हो गए थे। कुशाल ने कहा कि इस मूवमेंट के दौरान सुशांत पर बिना किसी ठोस सबूत के आरोप लगाए गए।

रिया चक्रवर्ती ने शेयर किया था सुशांत सिंह राजपूत की डायरी का पन्ना, फैन्स बोले- हैंडराइटिंग मैच नहीं करती

दिशा सलियन ने आखिरी कॉल सुशांत सिंह राजपूत को नहीं, इस दोस्त को की थी, मुंबई पुलिस ने किए कई खुलासे

उन्होंने लिखा था, ‘सुशांत को पता था कि उन्हें कौन निशाना बना रहा है। मुझे याद है कि सुशांत चार रातों तक नहीं सो सके थे क्योंकि वह संजना द्वारा आरोपों को खारिज करने का इंतजार कर रहे थे। आखिरकार, पांचवें दिन संजना ने उनपर लगे आरोपों को गलत बताया। यह ऐसी जीत लग रही थी, जिसे काफी मुश्किल से जीता गया हो।’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *