ये हैं IPL इतिहास के फाइनल मैच के 12 सुपरहीरो, अपनी टीम को बनाया था चैंपियन

Sports

नई दिल्ली: आईपीएल सीजन 13 का शुरू होने जा रहा है. सभी खिलाड़ियों ने आगामी आईपीएल के लिए तैयारियां भी शुरू कर दी है. जाहिर है ये खिलाड़ी ही तो हैं जो अपनी टीम को आईपीएल चैंपियन बनाने के लिए पूरा दमखम लगाते हैं और कई खिलाड़ी तो ऐसे भी होते हैं जो मुकाबले में अपने करिश्माई खेल से बाजी पलट देते हैं. कुछ ऐसा ही तो होता आया है आईपीएल इतिहास में जब खिताबी मुकाबलों में कई खिलाड़ियों ने अपने धाकड़ खेल के दम पर अपनी टीम को विजेता बनाया है. इस बीच हम आपको बताने जा रहे है,  आईपीएल (IPL) के वो धुरंधर खिलाड़ी जिन्होनें आईपीएल फाइनल में ‘मैन ऑफ द मैच’ रहे हैं. हालांकि कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं, जो ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ होने के बावजूद अपनी टीम को चैंपियन नहीं बना पाए.

यूसुफ पठान-2008
शुरुआत करते हैं इंडियन प्रीमयर लीग के पहले सीजन साल 2008 से, जब राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी यूसुफ पठान ने फाइनल में अपने हरफनमौला खेल के दम पर राजस्थान को विजेता बनाया था. पठान ने चेन्नई सुपरकिंग्स के सामने गेंद और बल्ले दोनों से कमाल दिखाया, पहले उन्होंने 22 रन देकर 3 विकेट लिए और बाद में 39 गेंदों में 56 रन बनाकर अपनी टीम को जिताया. इसके साथ ही यूसुफ को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गए. 

अनिल कुंबले-2009
साल 2009 जब आईपीएल का कारवां साउथ अफ्रीका गया तो उस सीजन में हैदराबाद डेकन चार्जस (सनराइजर्स हैदराबाद) और रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के बीच फाइनल खेला गया था, जहां आरसीबी के हारने के बावजूद भारतीय दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले को 4-16 विकेट के खेल के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया.

सुरेश रैना-2010
2010 में आईपीएल भारत लौट आया और खिताबी मुकाबला चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) और मुंबई इंडियस (MI) के बीच खेला गया. इस मैच सीएसके के बाएं हाथ के तूफानी बल्लेबाज सुरेश रैना को 35 गेंदों में 57 रनों के शानदार प्रदर्शन के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था, जिससे चैन्नई सुपरकिंग्स अपना पहला आईपीएल खिताब जीतने में सफल हुई.

मुरली विजय-2011
आईपीएल 2011 में फाइनल मैच चैन्नई सुपरकिंग्स बनाम रॉयल चैंलेजर बैंगलोर (RCB) के बीच था. इस मैच में सीएसके सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने 52 गेंदों में 95 रनों तूफानी पारी खेल चैन्नई सुपरकिंग्स को दूसरी बार आईपीएल विनर बनाया. विजय को इस बेहतरीन खेल के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया. 

मनविंदर बिस्ला-2012
साल 2012 में एक बार फिर से चैन्नई सुपरकिंग्स फाइनल में थी और उसके सामने कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) थी. फाइनल की यह जंग केकेआर ने अपने ओपनर मनविंदर बिस्ला के धुआंधार खेल से जीती. बिस्ला इस मैच में 48 गेंदों में 89 रनों की तेजतर्रार पारी खेलकर ‘मैन ऑफ द मैच’ रहे. 

कीरोन पोलार्ड-2013
आईपीएल सीजन 6 का फाइनल मुकाबला मुंबई इंडियंस और चैन्नई सुपरकिंग्स के बीच था. इस मैच मुंबई के ऑलराउंडर खिलाड़ी कीरोन पोलार्ड ने हरफनमौला खेल दिखाया और नाबाद 60 रन के साथ एक विकेट हासिल कर पहली बार मुंबई इंडियंस को चैंपियन बनाया.

मनीष पांडेय-2014
साल 2014 के IPL फाइनल की भिड़त कोलकाता नाइट राइडर्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच हुई. किंग्स इलेवन पंजाब ने ऋद्धिमान साहा के नाबाद शतक के दम पर बेहतरीन खेल दिखाया लेकिन केकेआर के मनीष पांडेय की 50 गेंदों में 94 रनों की पारी ने उस पर पानी फेर दिया. इस तरह से केकेआर दूसरी बार आईपीएल विनर और मनीष ‘मैन ऑफ द मैच’ बने. 

रोहित शर्मा-2015
2015 के आईपीएल में एक बार फिर से चैन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस थी. कहानी 2013 की तरह रही मुंबई ने एकतरफा खिताबी मुकाबला जीता और एमआई (MI) के कप्तान रोहित शर्मा को 26 गेंदों में 50 रनों की पारी के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया. 

बेन कटिंग-2016
आईपीएल सीजन 9 में खिताबी मुकाबला रॉयल चैलेंजर बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच हुआ. हैदाराबाद ने दूसरी बार खिताब जीता और उनके टीम के खिलाड़ी बेन कटिंग को ऑलराउंडर खेल नाबाद 39 रन और 2 विकेट के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ से नवाजा गया.  हालांकि ये आईपीएल सीजन विराट कोहली के दमदार खेल के लिए याद किया जाता है. कोहली ने इस सीजन में RCB की तरफ 4 सैंकड़े जड़ते हुए आईपीएल इतिहास में सबसे अधिक 973 रन बनाए थे.

क्रुनाल पांड्या-2017
आईपीएल 2017 में एक बार फिर से मुंबई की पलटन फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स का सामना कर रही थी. इस रोमांचक फाइनल में मुंबई इंडियंस ने बाजी मारी और क्रुनाल पांड्या को 47 रनों की शानदार पारी के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. 

शेन वॉटसन-2018
साल 2018 आईपीएल का 11वां सीजन दो साल के बैन के बाद वापसी कर चैन्नई सुपरकिंग्स फाइनल में हैदराबाद के सामने थी. चेन्नई सुपरकिंग्स के ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन के तूफानी शतक के दम पर सीएसके को तीसरी बार खिताब दिलाया. वॉटसन ने नाबाद 57 गेंदों में 117 रनों की धुआंधार पारी खेली और ‘मैन ऑफ द मैच’ हासिल किया. 

जसप्रीत बुमराह-2019
2019 के आईपीएल में चैन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस की भिडंत हुई. मुंबई इंडियंस ने यह कांटेदार मैच जीत कर चौथी बार आईपीएल ट्रॉफी जीती. ‘मैन ऑफ द मैच’ तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को चुना गया. उन्होनें 4 ओवर में 14 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे. 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *