पहले पूछो किस एक्टर-डायरेक्टर की वजह से सपोर्टिंग कास्ट ने छोड़ी फिल्म: नेपोटिज्म पर अनुराग कश्यप

Entertainment

बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर इन दिनों बहस तेज है। सभी सेलेब्स इस मुद्दे पर अपना रिएक्शन दे रहे हैं। अब इस बीच अनुराग कश्यप ने लगातार कुछ ट्वीट किए हैं जो सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में हैं। अनुराग ने ट्वीट किया, मित्रों…गजब डिबेट चल रही है। फिल्मों में सिर्फ एक्टर्स नहीं होते। एक फिल्म के सेट ओर कम से कम डेढ़ सौ लोग काम करते हैं। अंदर वाले या बाहर वाले जिस दिन सेट पर काम करने वाले असिस्टेंट्स, वर्कर्स, स्पॉटबॉय और बाकी सब इंसानों को इज्जत देना सीख जाएंगे तब उनसे बात की जा सकती है। चाहे वो बात नेपोटिज्म के बारे में हो या फेवरेटिज्म के बारे में हो। पहले इन सेट ओर काम करने वालों से एक बार पूछ लो की कौन सा एक्टर या डायरेक्टर या जो भी हो , वो सबसे ज्यादा बदतमीज है या किस एक्टर के नाम से वो उस फिल्म में काम करने से मना कर देते हैं।

अनुराग ने फिर ट्वीट किया, ‘फिर जा कर उन एक्टर के सेट्स पर, जहां जब कमान, तथाकथित एक्टर के हाथ में आ जाती है, उस फिल्म के सपोर्टिंग एक्टर्स के पुराने इंटरव्यू पढ़ लो की वो क्यों फिल्म छोड़ के गए थे। तुम जैसा दूसरों के साथ रहोगे वैसा ही वापस भी मिलेगा’।

इसके बाद अनुराग ने लिखा, ‘एक फिल्म बनाने में खून और पसीना 100 से ऊपर लोगों का होता है, लेकिन न्याय, अन्याय की बात सिर्फ वही क्यों करता है जिसको फिल्मों से सबसे ज्यादा मिलता है। सच समझना है तो समाज के हर गड्ढों में झांकना पड़ेगा की कितना गहरा है और उसमें कितना काला है’।

अनुराग ने अगले ट्वीट में लिखा, फिल्मी दुनिया सिर्फ दिखती और छपती ज्यादा है लेकिन यह किसी और दुनिया से अलग नहीं है। मेरे साथ भी 27 सालों में आउसाइडर्स और इंसाइडर्स दोनों ने बहुत कुछ किया है, लेकिन मुझे कोई जरूरत नहीं रही उनके वैलिडेशन या उनकी सराहना की।

इसके बाद अनुराग ने अपने आखिरी ट्वीट में लिखा, चलो बस आज मुझे भी  ‘मन की बात’ करने का मन हुआ साथियों, तो मैंने कर दी। बाकी नई-नई गालियों के साथ रिप्लाई करें तो अच्छा होगा। अगली फिल्म लिख रहा हूं – ‘Gangs ऑफ Parlia……’ डायलॉग्स को लेकर काफी अटका हुआ हूं…धन्यवाद।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *